April 15, 2020

मजदूर जो किसी देश की अर्थव्यवस्था की रीड की हड्डी होती है जो देश को प्रगति को और ले जाते है जिनकी मेहनत से बड़े बड़े शहर महानगर बसाय जाते है जिन्होंने ने शहर बनाया आज वही शहर मजदूर को नहीं अपना पा रहा है | गाँव का गरीब मजदूर जिस भूख को शांत करने के लिए शहर आया था आज फिर...

Please reload

Featured Posts

मजदूर की भूख गाँव से शहर और शहर से गाँव "कोरोना "

April 15, 2020

1/10
Please reload

Recent Posts

January 1, 2019

Please reload

Archive
Please reload

Search By Tags