सफाईकर्मीयों कोरोना की जंग में योद्धा और इनका भविष्य ??


जब पूरा विश्व कोरोना से जंग लड़ रहा है । इस जंग में सफाई कर्मियों को भी योद्धा की नजर से देखा जा रहा है ये अच्छा और सकारात्मक व्यवहार है समाज का। की जब डॉक्टरों और पुलिस के साथ साथ सफाई कर्मियों को भी सम्मान जनक नजरिया मिला है।


मेरी चिंता बस इतनी सी है कि समाज का ये नजरिया और सम्मानजनक व्यवहार यूँ ही बरकरार रहेगा या ये इस संकट से निपट जाने के बाद फिर से वही घिर्णीत व्यवहार हो जाएगा ।


सिर्फ समाज का ही व्यवहार नही सरकार का भी व्यवहार कुछ अलग नही होता है। सफाई कर्मियों का बहुत बड़ा हिस्सा ठेकेदारी व्यवस्था में काम करता है जहाँ उनके अधिकारों की बड़े स्तर पर अनदेखी की जाती है। हमने कई बुद्धिजीवियों से सुना है कि काम कोई छोटा या बड़ा नही होता परन्तु उतने समय व अधिक ऊर्जा देने पर भी वेतन में अन्तर क्यों होता है। और अधिकतर सफाई कर्मियों को ठेकेदारी प्रथा में ही क्यों रखा जाता है। उनके लिए सामाजिक सुरक्षा क्यों नहीं होती।


क्यों आज भी सीवर कर्मियों की सीवर के हत्या होती है। हम दूसरे ग्रहों पर तो पहुच गए परंतु सीवर में काम करने की मसीन आज तक क्यों नही बन पाई। और क्यों उनको मरने के लिए जबरदस्ती सीवर में उतारा जाता है उतारने से पहले गैर कानूनी रूप से उनको शराब भी पिलाई जाती है


शायद सफाईकर्मियों का ये सम्मान मुझे अल्पकालिक लगता है। समाज अभी इतना विकसित नही हुआ है और सरकार भी तो समाज के ही लोगो से चलती है और ये खाई लगातार यूँ ही बनी रहती है। मैं आशा करता हूँ कि समाज में इंसानियत का विकास हो हर इंसान दूसरे इंसान का सम्मान करें।

19 views

​​Call us:

+91 8800 1300 41

​Find us: 

SH 296, 2nd Floor, H Block, Shastri Nagar, Ghaziabad 201002 (Opposite: Uttam School)

Email: contact@labourissuewatch.org